Pongal Recipe: पोंगल रेसीपी हिन्दी मे

Pongal Recipe पोंगल एक प्रसिद्ध दक्षिण भारतीय व्यंजन है जिसे चावल और मूंग दाल से बनाया जाता है। इसे मीठा या नमकीन दोनों तरह से बनाया जा सकता है।

Pongal Recipe
Pongal Recipe

Pongal Recipe in Hindi

इस लेख में हम आपको नमकीन पोंगल रेसिपी के बारे में बताएंगे जिसे वेन पोंगल या खारा पोंगल के नाम से भी जाना जाता है। यह घी, जीरा, अदरक, कालीमिर्च, कढ़ीपत्ता और हींग के साथ तड़का लगाकर बनाया जाता है।

यह बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक व्यंजन है जिसे आप नाश्ते, दोपहर या रात के भोजन के रूप में परोस सकते हैं।

Pongal Recipe बनाने के लिए सामाग्री

पोंगल बनाने के लिए आपको निम्न सामग्री की आवश्यकता होगी:

  • 1 कप चावल
  • 1/2 कप पीली मूंग दाल
  • 4 कप पानी
  • 1/4 कप घी
  • 1 टीस्पून जीरा
  • 1/2 टीस्पून कालीमिर्च
  • 1 इंच का टुकड़ा अदरक, बारीक कटा हुआ
  • 10-12 कढ़ीपत्ते
  • एक चुटकी हींग
  • नमक स्वादानुसार
Pongal Recipe in Hindi

पोंगल बनाने की विधि इस प्रकार है:

  1. चावल और मूंग दाल को अच्छे से धोकर एक बार्तन में रखें। इसमें 4 कप पानी डालें और इसे एक ओर रखें।
  2. एक प्रेशर कुकर में 2 बड़े चम्मच घी गरम करें। इसमें जीरा, कालीमिर्च, अदरक, कढ़ीपत्ता और हींग डालें। इन्हें मध्यम आंच पर 1-2 मिनट तक भूनें।
  3. अब चावल और मूंग दाल के मिश्रण को प्रेशर कुकर में डालें। इसमें नमक डालें और अच्छे से मिलाएं।
  4. प्रेशर कुकर का ढक्कन बंद करें और इसे उच्च आंच पर रखें। एक सीटी आने के बाद आंच को कम करें और दो और सीटी आने तक पकाएं।
  5. प्रेशर कुकर को गैस से उतारें और इसे अपने आप प्रेशर रिलीज होने तक रखें। फिर इसका ढक्कन खोलें और एक चम्मच से पोंगल को हल्का सा मिलाएं।
  6. एक पैन में बाकी का घी गरम करें। इसमें कुछ काजू डालें और सुनहरा होने तक तलें। फिर इन्हें निकाल कर एक प्लेट में रखें।
  7. अब पोंगल को एक परोसनी बार्तन में निकालें और उसपर तले हुए काजू डालें।
  8. आपका पोंगल तैयार है। इसे नारियल की चटनी, सांबर या दही के साथ गर्म-गर्म परोसें।

पोंगल एक पौष्टिक और संतुलित व्यंजन है जिसमें चावल, मूंग दाल, घी और मसाले शामिल हैं। इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, वसा, विटामिन और मिनरल्स की अच्छी मात्रा होती है। इसके अलावा, इसमें जीरा, कालीमिर्च, अदरक, कढ़ीपत्ता और हींग के गुण भी होते हैं जो पाचन, श्वसन, रक्तचाप और रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाते हैं।

Pongal Recipe पोषण विवरण

एक कप (207 ग्राम) पोंगल में लगभग 319 कैलोरी होती हैं।
कार्बोहाइड्रेट,54 ग्राम
वसा8.1 ग्राम
प्रोटीन7.3 ग्राम
फाइबर 3.8 ग्राम
चीनी1 ग्राम
सोडियम3.4 मिलीग्राम
पोटैशियम207 मिलीग्राम
कोलेस्ट्रॉल16 मिलीग्राम
विटामिन A1 प्रतिशत
विटामिन C1 प्रतिशत
कैल्शियम3 प्रतिशत
आयरन10 प्रतिशत
Pongal Recipe पोषण विवरण

पोंगल को नारियल की चटनी, सांबर या दही के साथ खाने से इसका स्वाद और पोषण दोनों बढ़ जाते हैं। इसे नाश्ते, दोपहर या रात के भोजन के रूप में परोसा जा सकता है। यह एक आसान, सस्ता और स्वास्थ्यवर्धक विकल्प है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q: पोंगल बनाने के लिए कौन सा चावल उपयोग करना चाहिए?

A : पोंगल बनाने के लिए आप किसी भी प्रकार के छोटे या मध्यम आकार के सफेद चावल का उपयोग कर सकते हैं। लेकिन अगर आपको सीरगा संबा चावल मिल जाएं तो वह सबसे अच्छा होगा क्योंकि इससे पोंगल को एक अच्छा स्वाद और खुशबू मिलती है।

Q: पोंगल को कितनी देर तक रखा जा सकता है?

A: पोंगल को बनाने के बाद आप इसे एक ढक्कन वाले बर्तन में रखकर 2-3 घंटे तक कमरे के तापमान पर रख सकते हैं। अगर आप इसे ज्यादा देर तक रखना चाहते हैं तो आप इसे फ्रिज में रखें और जब खाना हो तो इसे गरम करें। फ्रिज में रखा हुआ पोंगल 2-3 दिन तक ठीक रहता है।

Q: पोंगल को किस के साथ परोसना चाहिए?

A: पोंगल को आप नारियल की चटनी, सांबर, दही, पापड़, अचार या अपनी पसंद के किसी भी साइड डिश के साथ परोस सकते हैं। आम तौर पर नाश्ते में नारियल की चटनी के साथ और दोपहर या रात के भोजन में सांबर के साथ पोंगल परोसा जाता है।

Q: पोंगल को इंस्टेंट पॉट में कैसे बनाया जा सकता है?

A: पोंगल को इंस्टेंट पॉट में बनाने के लिए आपको चावल और मूंग दाल को अच्छे से धोकर इंस्टेंट पॉट के इनर पॉट में डालना है। इसमें 4 कप पानी और नमक डालें और अच्छे से मिलाएं। इंस्टेंट पॉट को मैनुअल मोड पर 10 मिनट के लिए सेट करें और वेंटिंग पोजिशन में रखें। 10 मिनट बाद नैचुरल प्रेशर रिलीज होने दें। फिर इंस्टेंट पॉट को खोलें और एक चम्मच से पोंगल को हल्का सा मिलाएं। एक पैन में घी, जीरा, कालीमिर्च, अदरक, कढ़ीपत्ता और हींग को तड़का लगाकर पोंगल पर डालें। अगर चाहें तो कुछ काजू भी तलकर डाल सकते हैं।



Leave a Comment